UP Panchayat Election Result: कई नामी चेहरों की हार, निर्दलीय उम्मीदवारों ने बनाई बढ़त – UP Panchayat Election Results Live Updates BJP SP BSP Congress Candidates List

- Advertisement -





स्टोरी हाइलाइट्स

  • पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी जीतीं
  • जौनपुर से दीक्षा सिंह की हार, बीजेपी प्रत्याशी को मिली जीत
  • मुलायम सिंह की भतीजी भी हारीं

यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के नतीजे घोषित किए गए हैं. यूपी में 58,189 ग्राम पंचायतों, 7, 32, 563 ग्राम पंचायत सदस्य, 75, 855, क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) और यूपी के सभी 75 जिलों में 3051 जिला पंचायत सदस्यों को चुनने के लिए चार चरणों में मतदान हुए थे.

- Advertisement -

यूपी पंचायत चुनाव में बीजेपी ने बढ़त बना ली है. वहीं, निर्दलीय उम्मीदवार अन्य सभी राजनीतिक दलों से आगे चल रहे हैं. यूपी पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य के रुझान कुछ इस प्रकार हैं. हालांकि चुनाव आयोग ने अभी तक औपचारिक ऐलान नहीं किया है.

बीजेपी- 811
समाजवादी पार्टी-680
बहुजन समाज पार्टी- 290
कांग्रेस-58
अन्य-880
(2719/3050)

इससे पहले चुनाव परिणाम के नतीजों के बीच बीजेपी ने सूबे में जबरदस्त समर्थन मिलने का दावा किया है. बीजेपी का कहना है कि जिला पंचायत चुनाव में अभी तक पार्टी समर्थित 918 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है. 456 उम्मीदवार आगे हैं और तमाम निर्दलीय उम्मीदवार भी पार्टी के संपर्क में हैं.

बीजेपी का जबरदस्त समर्थन का दावा

बीजेपी के मुताबिक पश्चिम क्षेत्र के कुल 14 जिले में 446 जिला पंचायत वार्ड है. जिसमें से पार्टी के खाते में 132 सीटें आईं हैं और 72 सीटों पर बीजेपी आगे है. ब्रज क्षेत्र के 12 जिलों में 463 जिला पंचायत वार्ड है. यहां बीजेपी समर्थित 137 उम्मीदवार जीते हैं और 74 आगे चल रहे हैं. कानपुर क्षेत्र के 14 जिलों में 363 जिला पंचायत वार्ड में 107 सीटों पर पार्टी समर्थित उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है. जबकि 70 उम्मीदवार आगे हैं.

अवध क्षेत्र के 13 जिलों में 679 जिला पंचायत वार्ड हैं. यहां बीजेपी ने 194 सीटों पर जीत दर्ज की है जबकि 78 सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार आगे हैं. काशी क्षेत्र के 12 जिलों में 574 जिला पंचायत वार्ड  में 187 सीटों पर जीत मिली है  जबकि 80 सीटों पर बीजेपी आगे है. गोरखपुर क्षेत्र के 10 जिलों में 526 जिला पंचायत वार्ड  में से 161 सीटों पर बीजेपी समर्थित उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है जबकि 82 सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार आगे हैं.

कई नामी चेहरों की हार, इनको मिली जीत

यूपी के पंचायत चुनाव में कई नामी चेहरे उतरे थे. कुछ के हाथों हार लगी है तो कुछ लोगों ने जीत दर्ज की है. मैनपुरी में पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की भतीजी संध्या यादव चुनाव हार गई हैं. हाल में ही संध्या यादव सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुई थीं. वह मैनपुरी के वार्ड नंबर 18 से जिला पंचायत सदस्य पद की उम्मीदवार थीं. यूपी के जौनपुर जिला पंचायत सदस्य सिकरारा से बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला धनंजय सिंह ने जीत दर्ज की है. 

उन्नाव के सजायाफ्ता विधायक व पूर्व भाजपा नेता कुलदीप सिंह सेंगर के घर में प्रधानी बची थी वो भी अब छिन गयी है. कुलदीप सिंह सेंगर के गांव में उनके धुर विरोधी शिशुपाल सिंह प्रधान चुने गए हैं. यानी कि अब कुलदीप सिंह के घर से सारे राजनीतिक पद समाप्त हो गए हैं.

जौनपुर के 83 जिला पंचायत सदस्य वार्ड में बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला है. जहां मिस इंडिया रनरअप दीक्षा सिंह और लंदन रिटर्न IIM पास उर्वशी सिंह की हार की जबरदस्त चर्चा है. दीक्षा के खिलाफ भाजपा समर्थित प्रत्याशी नगीना सिंह ने लगभग 2000 वोटों के अंतर से जीत हासिल की है.

 





Source Link

- Advertisement -

Latest Updates