ओडिशा और झारखंड में कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने गईं पुलिस पर हमला, 12 गिरफ्तार – Crowd attacked on police in Odisha and Jharkhand who went for Corona guidelines implementation

- Advertisement -





स्टोरी हाइलाइट्स

  • पुलिस कोरोना नियमों का पालन कराने गई थी
  • मयूरभंज और गोड्डा जिले में पुलिस पर हमला
  • मयूरभंज में 12 लोगों पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा

ओडिशा और झारखंड से ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जहां कोविड सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करा रही पुलिस पर हमला कर दिया गया. ओडिशा के मयूरभंज जिले के एक गांव में पारंपरिक चैत्री पर्व के आयोजन के लिए बड़ी संख्या में लोग जमा थे. सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर लोगों को कोरोना वायरस के खतरे के बारे में सचेत करना चाहा तो लोगों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया. इसमें एक एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस ने 12 लोगों को गिरफ्तार किया है. 

- Advertisement -

इसी तरह झारखंड के गोड्डा जिले के एक गांव में रविवार की पैठ में लोगों की भीड़ जुटने की सूचना मिलने पर पुलिस पार्टी कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने पहुंची तो उस पर भी हमला कर दिया गया.  

ओडिशा 

ओडिशा के मयूरभंज जिले के उडाला ब्लॉक के देबनबहाली गांव में शनिवार की रात को पारंपरिक चैती पर्व का आयोजन हो रहा था. पुलिस को सूचना मिली कि गांव में सैकड़ों की संख्या में लोग जमा हैं. बता दें कि ओडिशा सरकार ने राज्य में कोविड-19 केसों की संख्या में बढ़ोतरी की वजह से वीकेंड लॉकडाउन का एलान कर रखा है. 

सराट पुलिस स्टेशन के एएसआई बिस्वाजीत दास मोहापात्रा के नेतृत्व में पुलिस देबनबहाली गांव पहुंची. वहां पुलिस ने लोगों को समझाना चाहा कि कोरोनावायरस संक्रमण के खतरे को देखते हुए इतनी बड़ी संख्या में लोगों का इकट्ठा होना ठीक नहीं है. इससे लोगो अपनी ही जान खतरे में डाल रहे हैं.  

पुलिस के आयोजन को रोकने की कोशिश में लोगों की पहले पुलिस से तकरार हुई. फिर भीड़ ने पुलिस टीम के सदस्यों पर हमला कर दिया. पुलिसवालों को दौड़ाने के साथ लाठियों से पीटा गया. पुलिस वाहनों को भी निशाना बनाया गया. इस हमले में एएसआई बिस्वाजीत दास मोहपात्रा के साथ एक कांस्टेबल और एक होमगार्ड घायल हो गए. मयूरभंज के एसपी समित परमार ने आजतक को फोन पर बताया कि 12 लोगों को विभिन्न धाराओं में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस मामले में जांच जारी है और आगे भी गिरफ्तारियां होंगी. 

झारखंड: हाट में जुटी भीड़ ने किया अटैक

ओडिशा जैसी ही घटना झारखंड के गोड्डा जिले से भी सामने आई है. यहां पुलिस पार्टी साप्ताहिक हाट में लोगों की भीड़ जुटने की सूचना पर कोरोना गाइडलांइस का पालन कराने पहुंची थी. सुदर पहाड़ी पुलिस स्टेशन के तहत डमरू गांव में रविवार को हाट में बड़ी संख्या में लोग खरीदारी के लिए पहुंचे हुए थे. आदिवासी बहुल क्षेत्र होने की वजह से आसपास के गांवों से भी लोग हाट आए हुए थे. जब पुलिस पार्टी ने कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराना शुरू किया तो भीड़ ने पुलिस पर हमला कर दिया. पहले तो पुलिस को पीछे हटना पड़ा. लेकिन फिर पुलिस ने सख्ती के साथ पेश आते हुए हाट को बंद कराया.  

गोड्डा के एसपी वाई एस रमेश ने फोन पर आज तक को बताया कि “पुलिस के पास हमले के वीडियो और तस्वीरें मौजूद हैं जिनमें हमला करने वाले देखे जा सकते हैं. इनकी पहचान होने के बाद सभी पर कार्रवाई की जाएगी और आईपीसी, महामारी एक्ट के तहत धाराएं लगाई जाएंगी. बता दें कि गोड्डा जिले के ही गोपी कांदर पुलिस स्टेशन के तहत भी एक जगह पुलिस को हाल ही में ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ा था. 

एसपी रमेश ने लोगों से अपील की कि वे स्थिति की गंभीरता को समझें. पुलिस जनहित में ही कदम उठा रही है. लोगों को ये समझना चाहिए कि उन्हें खुद सुरक्षित रहने के लिए कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना कितना जरूरी है. झारखंड में कोरोनावायरस के नए केसों की संख्या तेजी से बढ़ने के साथ हर दिन 100 से अधिक मौतों की रिपोर्ट सामने आ रही हैं. 

(गोड्डा से संतोष के इनपुट के साथ) 

 





Source Link

- Advertisement -

Latest Updates